Tag: lord krishna

Krishna Leela कृष्ण लीला (Life of vrindavan)

जग हारी मैं बलिहारी पग-पग बोलूं बतिया,बरसाने में मैं बलि जाऊ जागू सारी रतिया।चरण उघारे, अधर तिहारे, देखत तिरछी अखियां,वृन्दावन में रास रचावै, रज-रज बहके सखियां।। बांस बजैया, पंख लगैया,…

error: Content is protected !!